Thursday, October 21st, 2021

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को 18 महीने में करना था पूरा, सरकार के कारण काम अब भी अधूरा : अखिलेश

आजमगढ़
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव रविवार दोपहर आजमगढ़ पहुंचे। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने योगी सरकार पर निशान साधा। कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को महज 18 महीने में पूरा कर लेना था लेकिन उसे बनवाने में साढ़े चार साल लग गए। अभी काम अधूरा भी है। वो पूर्व मंत्री बलराम यादव के सेनपुर स्थित आवास पर मातमपुर्सी करने आए थे। बलराम यादव की पुत्रवधु का पिछले दिनों निधन हो गया था।

अखिलेश यादव रविवार को लखनऊ से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से आजमगढ़ पहुंचे। अतरौलिया के सेनपुर में मातमपुर्सी के बाद उन्होंने कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की। कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का काम कई जगह अधूरा है। न तो मंडियां बनीं हैं और न अंडरपास। यह सरकार शिलान्यास का शिलान्यास कर रही है। प्रतापगढ़ में सांसद संगम लाल गुप्ता पर हमले को सरकार के प्रति जनाक्रोश करार देते हुए कहा कि यह सरकार के प्रति जनता का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। समय आने पर इसका जवाब जनता जरूर देगी।

उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ पहले मुख्यमंत्री हैं जो अपना मुकदमा वापस कराने में लगे हैं। यह सरकार किसान विरोधी है और खाद की बोरी से खाद निकाल रही है। डीजल और पेट्रोल की भारी कीमत वसूल कर किसानों को 500 रुपये महीने का अनुदान दे रही है। प्रदेश सरकार ने जनता को छला है। महंगाई चरम पर है। सड़कें क्षतिग्रस्त हैं। आम जनता त्रस्त है। लोग इसका जवाब विधानसभा चुनाव में देंगे।

 पूर्व मुख्यमंत्री व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव लखनऊ से पूर्वांचल एक्सप्रेस से चलकर अतरौलिया जाने के लिए फुलवरिया अंडरपास के पास फुलवरिया-बुढ़नपुर मार्ग के लिए उनका काफिला उतरा। जहां पहले से ही भारी संख्या में सपा के पदाधिकारी, विधायक और कार्यकर्ता स्वागत के लिए इंतजार कर रहे थे।

पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से नीचे उतरने पर कार्यकर्ताओं ने पूर्व सांसद रमाकांत यादव और अंबेडकर नगर के विधायक सुभाष राय के नेतृत्व में स्वागत किया। मुश्किल से दो मिनट रुकने के बाद अखिलेश यादव गाड़ी के पायदान पर खड़े होकर लोगों का अभिवादन किया। इसके बाद वह पूर्व मंत्री बलराम यादव के घर के लिए रवाना हो गए।

Source : Agency

आपकी राय

10 + 12 =

पाठको की राय