Monday, January 17th, 2022

दिसंबर महीने में महंगाई दर में गिरावट,वार्षिक मुद्रास्फीति की दर 13.56

नई दिल्‍ली
दिसंबर महीने में वार्षिक मुद्रास्फीति दर में काफी इजाफा हुआ है। जहां नवंबर में ये 1.95% था, वहीं दिसंबर में बढ़कर 13.56% हो गया। वाणिज्य मंत्रालय के मुताबिक मिनरल ऑयल, मेटल, कच्चे तेल, प्राकृतिक गैस, खाद्य उत्पाद, टेक्सटाइल आदि की कीमतों में बढ़ोतरी की वजह से ऐसा हुआ है। वैसे Wholesale Price पर आधारित महंगाई में 4 माह से जारी बढ़त का सिलसिला दिसंबर, 2021 में थम गया। थोक महंगाई दर में थोड़ी राहत मिलती दिखी है, लेकिन ये अभी भी दोहरे अंकों में है। दिसंबर में थोक महंगाई दर नवंबर के 14.23% से घटकर 13.56% दर्ज की गई है। इस अवधि में कोर WPI भी नवंबर के 12.2% से घटकर 11% आ गई है। लेकिन दिसंबर महीने में खाने-पीने की चीजों की महंगाई दर, नवंबर महीने के 6.70% से बढ़कर 9.24% फीसदी पर पहुंच गई है।

 


दिसंबर में कैसी रही महंगाई दर?

  •     दिसंबर महीने में सभी कमोडिटी इंडेक्स में महीने दर महीने आधार पर 0.35% की गिरावट देखने को मिली है।
  •     प्राइमरी आर्टिकल्स इंडेक्स में भी महीने दर महीने आधार पर 0.47% गिरावट दिखी है।
  •     मैन्यूफैक्चरिंग प्रोडक्ट्स की थोक महंगाई दर घटकर 10.62% पर पहुंच गई है, जो नवंबर में 11.92% थी।
  •     दिसंबर महीने में फ्यूल एंड पावर की थोक महंगाई दर नवंबर के 39.81% से घटकर 32.30% पर पहुंच गई है।
  •     दिसंबर में फूड इंडेक्स में 0.82% की गिरावट देखने को मिली है।
  •     सब्जियों की थोक महंगाई दर नवंबर के 3.91% से बढ़कर 31.56% पर आ गई है।
  •     मैन्युफैक्चर्ड इंडेक्स में महीने दर महीने आधार पर 0.22% की बढ़त देखने को मिली है।

वैसे तिमाही आंकड़ों में खाने-पीने की चीजों में ज्यादा गिरावट दर्ज की गई है। दिसंबर में समाप्त तिमाही में अंडे, मांस की थोक महंगाई 9.66% से घटकर 6.68% पर आ गई है, जबकि प्याज की थोक महंगाई 30.1% के मुकाबले 19.08% फीसदी पर आ गई है। आलू की थोक महंगाई 49.54% से घटकर 42.10% पर आ गई है। जबकि

Source : Agency

आपकी राय

6 + 14 =

पाठको की राय